अटल बिहारी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे जसवंत सिंह का निर्धन
अटल बिहारी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे जसवंत सिंह का निर्धन

आज सुबह अटल बिहारी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे जसवंत सिंह का लंबी बीमारी के चलते निधन हो गया उनके निधन पर देश के प्रधानमंत्री देश के गृहमंत्री व रक्षा मंत्री एवं लोकसभा के अध्यक्ष आदरणीय ओम बिरला जी ने शोक जताया।

देश के रक्षा मंत्री ने दुख जताते हुए कहा कि ‘अनुभवी भाजपा नेता और पूर्व मंत्री श्री जसवंत सिंह जी के निधन से गहरा दुख हुआ। उन्होंने रक्षा मंत्रालय के प्रभारी सहित कई क्षमताओं में देश की सेवा की उन्होंने खुद को एक प्रभावी मंत्री और सांसद के रूप में प्रतिष्ठित किया। श्री जसवंत सिंह जी को उनकी बौद्धिक क्षमताओं और देश की सेवा में के लिए याद किया जाएगा।

उन्होंने राजस्थान में भाजपा को मजबूत करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. इस दुख की घड़ी में उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदना।’

आदरणीय जसवंत जी बीजेपी के वरिष्ठ नेता रहे थे वह पिछले 6 साल से एक गंभीर बीमारी से पीड़ित थे और वे उस गंभीर बीमारी का लंबे समय से बहादुरी के साथ सामना भी कर रहे थे किंतु आज सुबह वह है यह देश छोड़कर चले गए उनका इस तरह जाना भारतीय जनता पार्टी के राजनैतिक करियर में एक अभूतपूर्व क्षति है।

अटल बिहारी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे जसवंत सिंह का निर्धन

आदरणीय जसवंतजी अटल बिहारी सरकार ने वित्त मंत्री के रहे थे जबकि वह रक्षा मंत्रालय के प्रभारी भी रह चुके थे जसवंत सिंह जी अटल बिहारी वाजपेई जी के कार्यकाल में विदेश मंत्रालय भी संभाला था

वित्तमंत्री के रूप में उन्होंने बाजार-हितकारी सुधारों को बढ़ावा दिया। वे स्वयं को उदारवादी नेता मानते थे। १५वीं लोकसभा में वे दार्जिलिंग संसदीय क्षेत्र से सांसद चुने गए। वे राजस्थान में बाड़मेर जिले के जसोल गांव के निवासी है और 1960 के दशक में वे भारतीय सेना में अधिकारी रहे। पंद्रह साल की उम्र में वे भारतीय सेना में शामिल हुए थे।

जसवंत जी को 2001 में सर्वश्रेष्ठ सांसद का भी सम्मान मिल चुका था. 2014 के लोकसभा चुनाव में जसवंत सिंह जी को राजस्थान की बाड़मेर सीट से भारतीय जनता पार्टी का प्रत्याशी न बनाए जाने पर उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ा था जिसके लिए पार्टी ने उनको 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here