मधुबनी में सीएम नीतीश कुमार पर फेंके गए आलू-प्याज

बिहार में चुनाव का माहौल है इसी के बीच बिहार के सीएम नीतीश कुमार के चुनावी सभा में एक व्यक्ति ने आगे से आलू-प्याज फेंक दिया। जिसको सुरक्षा बलों ने मंच पर पकड़ लिया। और जिसकी वजह से सीएम नीतीश कुमार बाल-बाल बच गए। आज कल कोविड काल भी चल रहा है और उसी के बीच 3 नवम्बर यानि आज दूसरे चरण का चुनाव भी सम्पन्न हो गया है।

सीएम नीतीश कुमार हरलाखी विधानसभा के गंगौर गांव स्थित नंद लाल महावीर प्लस टू उच्च विद्यालय के मैदान में जदयू (जनता दल (यूनाइटेड)) उम्मीदवार सुधांशु शेखर के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। उसी बीच ये घटना हुई । मंच पर आलू-प्याज फेंके जाने के बाद से सुरक्षा बलों ने सीएम को चारों ओर से घेरे में ले लिया। आलू-प्याज फेंकते देख सीएम ने बोला कि खूब फेंको, खूब फेंको। सुरक्षा बल और आम जनता के अपील करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि इस पर ध्यान मत दीजिए। सुरक्षा में लगे कर्मी को कहा कि छोड़ दीजिए। दो मिनट छोड़ दीजिए। किसी पर ध्यान मत दीजिए और भाषण जारी रखा। कहा, जो आज नौकरी देने की बात कह रहा है, वे बताएं कि 15 सालों के शासन में कितने लोगों को नौकरी दी गई।

मधुबनी में सीएम नीतीश कुमार पर फेंके गए आलू-प्याज

जदयू प्रखंड के अध्यक्ष प्रमोद गुप्ता ने कहा है कि विरोधियों ने साजिश के तहत सभा को भंग करने के लिए यह हरकत किया है। बता दें कि सीएम मंगलवार को मधुबनी में विभिन्न जगहों पर एनडीए प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे थे। सीएम नीतीश कुमार ने हरलाखी के अलावा बेनीपट्टी, बाबूबरही और लौकहा में भी चुनावी सभाओं को संबोधित किया। हरलाखी के अलावा अन्य स्थानों पर सभा शांतिपूर्ण रही। 

यह भी पढ़ें- 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here