स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 का परिणाम जारी, इंदौर लगातार चौथे बार टॉप पर

सेंट्रल गवर्नमेंट ने देशभर के शहरों में साफ-सफाई से रिलेटेड ‘स्वच्छ सर्वेक्षण 2020‘ के परिणामों की ऐलान किया है । और हर बार की तरह फिर से पहले पायदान पर इंदौर ने अपनी जगह बनायी है । आवास और शहरी मामलों के मिनिस्टरी ने सूरत को भारत का सेकेंड सबसे स्वच्छ सिटि घोषित किया है । आपको मालूम हो कि इससे पहले 4 बार ये सवेर्क्षण हो चुका है । केन्द्रीय आवास एवं शहरी कार्य मिनिस्टरी द्वारा आयोजित ये ‘स्वच्छ महोत्सव’ नाम के इस कार्यक्रम में देश के टोटल 129 सिटिज को पुरस्कार प्रदान किए जायेंगे ।

इससे पहले खबर ये आयी थी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बारे में वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से स्वच्छ भारत मिशन शहरी के तहत वर्क करने वाले देश के चुनिंदा लाभार्थियों , स्वच्छाग्रहियों और सफाईकर्मियों के साथ बाते भी करेंगे। मगर किसी कारणवश वह इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सकें । 

स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 का परिणाम जारी, इंदौर लगातार चौथे बार टॉप पर

वर्ल्ड के सबसे बृहद स्वच्छता सर्वेक्षण में 4242 सिटीज, 62 छावनी बोर्डों और 92 गंगा के समीप बसे टाउन्स की रैंकिंग जारी की जायेगी । इन एरियास में करीब 1 करोड़ 90 लाख की आबादी निवास करती है। सर्वेक्षण के पहले चरण में भारत में सबसे ज्यादा स्वच्छ शहर का खिताब मैसुरू ने प्राप्त किया था, और इसके बाद इंदौर लगातार तीन साल तक (2017,2018,2019) शीर्ष स्थान पर रहा है ।

लगभग 1 महीने चले इस सवेर्क्षण अभियान के दौरान 1 करोड़ 70 लाख नागरिकों ने स्वच्छता ऐप पर पंजीकरण भी किया है और सोशल मीडिया पर 11 करोड़ से अधिक लोग इस सर्वेक्षण से जुड़े है । साढे पांच लाख से अधिक सफाई कर्मचारी सामाजिक कल्याण योजनाओं से जुड़े लोगो और ऐसे 21 हजार स्थानों की पहचान भी की गई है, जहां कचरा पाये जाने की अधिक संभावनायें है । आवास एवं शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी के साथ ही साथ विभिन्न सिटीज के मेयर , निगम आयुक्त और अन्य पक्षधारक इस कार्यक्रम में शामिल होंगे। 

ये भी पढ़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here