Union minister Gajendra Singh Sekhawat
Source: dnaindia.com

बीते दिनों में राजस्थान सरकार में कई उथल पुथल हुए हैं। सरकार में पदों को लेकर कई बदलाव भी किए गए हैं।साचिन पायलट को डिप्टी सीएम के पद से हटाए जाने के बाद से ही एक खबर चल रही है कि वह बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। ठीक वैसे ही जैसे कुछ समय पहले सिंधिया ने किया था।

इसी क्रम में अब एक नया मोड़ यह आया है कि कल से एक ऑडियो टेप वायरल है, जिसमें विधायकों को ख़रीद फरोख्त करने का मामला सामने आया है। हालांकि साचिन पायलट ने कहा था कि उनका भाजपा में शामिल होने का कोई इरादा नहीं है।

इसमें कांग्रेस ने केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह पर आरोप लगाएं हैं। जिसका खंडन केंद्रीय मंत्री ने यह कहते हुए किया है कि गजेंद्र नाम के बहुत से व्यक्ति हैं कोई भी हो सकता है। उन्होंने ने इस मामले में अपने संबंध को पूरी तरह नकारा है और आगे जांच की मांग की।

मामला यहीं ख़त्म नहीं होता है, कांग्रेस के महेश जोशी ने स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SOG) में एफ आई आर दर्ज कराई है। जिसमें संजय जैन, भंवर लाल शर्मा और केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह सेखावत के नाम शामिल हैं। तत्काल प्रभाव से राजस्थान सरकार ने दो विधायकों, भंवर लाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह को पार्टी के प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है।

SOG ने कहा है कि उन्होंने दो शिकायतें दर्ज की है, धारा 124ए, और धारा 120बी के तहत। दो एफआईआर दर्ज हैं जिनमें एक तीन लोगों के खिलाफ और दूसरा बिना किसी के नाम शामिल किए। SOG ने आश्वस्त किया है कि वह इस मामले की जांच करेगी।

BJP Spokesperson Sambit Patra during a press briefing
BJP Spokesperson Sambit Patra during a press briefing

वहीं बीजेपी के प्रवक्ता सम्बित पात्रा ने बोला कि कांग्रेस पार्टी खुद का घर सम्भाल न पाने की वज़ह से परेशान है और अपने इस नाकामी के लिए बीजेपी पर आरोप लगा रही है। उन्होंने बीजेपी के इस मामले में जुड़े होने का भी खंडन किया।

ये भी पढ़े : Google भूल गए Blogspot.in को Renew करना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here