यूपी में अनियमितता में संलिप्त दो आईपीएस अधिकारी सस्पेंड ।
Image Source : timesofindia.indiatimes.com

अनियमितता में संलिप्त पाए गए 2 आईपीएस अधिकारियों पर उत्तर प्रदेश सरकार जिस के वर्तमान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का डंडा चल गया है उन्होंने 2 आईपीएस अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है बल्कि कुछ अधिकारियों के तबादले भी किए हैं ।

इन सभी अधिकारियों पर जनहित के काम में आने अनियमितता करने का आरोप था जिसको मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वयं नजरों में लिया और 2 आईपीएस अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया व अन्य कुछ अधिकारियों का ट्रांसफर कर दिया ।

निलंबित किये गए अफसरो में 2 डीआईजी भी शामिल हैं, उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ के आदेश के बाद डीआईजी (रूल्स एंड मैनुएल्स) दिनेश चंद्र दुबे और डीआईजी (पीएसी आगरा) अरविंद सेन को निलंबित कर दिया गया है ।

यूपी में अनियमितता में संलिप्त दो आईपीएस अधिकारी सस्पेंड ।
Image Source : indiatvnews.com

मालूम हो कि निलंबित किये गए आईपीएस अफसरों के खिलाफ सीएमओ ऑफिस को कई सारी शिकायतें मिल रही थीं । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के सभी अधिकारियों को ऑर्डर दिया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण के काल में जनता से जुड़े किसी भी कार्य में न तो लापरवाही की जाए और न ही किसी प्रकार की कोई अनियमितता की जाए । निलंबित किये गए अफसरो का आचरण और क्रियाकलाप सरकार को पसंद नहीं आ रहा था । जिसके परिणामस्वरूप ये फैसला लिया गया है ।

उत्तर प्रदेश के योगी सरकार ने सोमवार देर शाम 2 IAS और 4 PCS अधिकारियों के ट्रान्सफर कर दिए है । कानपुर के डीएम ब्रह्मदेव तिवारी का स्थानांतरण हो गया है, उनकी जगह आलोक कुमार तिवारी को कानपुर का नया डीएम बनाया गया है । ब्रम्हदेव तिवारी के पाँव में चोट लग गयी थी इस वजह से वे बेड रेस्ट पर हैं ।

आपको बता दें कि सुनील शुक्ल को जालौन सिटी मजिस्ट्रेट और हरिशंकर शुक्ल को एडीएम न्यायिक सीतापुर की ज़िम्मेदारी सौंपी गयी है । विनीता सिंह को एसडीएम न्यायिक फतेहपुर और त्रिभुवन कुमार को सिटी मजिस्ट्रेट शाहजहांपुर बनाया गया है ।

ये भी पढ़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here